‘हनीट्रैप’ में फंसाकर होटेल में बंधक बनाया, यौन संबंध बनवाकर फिल्माया, और फिर…

Honeytrap, Honeytrap Kidnapping, Honeytrap Film, Honeytrap Video- India TV Hindi
Image Source : PIXABAY
Representational Image.

Highlights

  • मैकेनिक और महिला का सोशल मीडिया के जरिए संपर्क हुआ था।
  • होटल में मैकेनिक को 3 दिन तब बंधक बनाकर रखा गया था।
  • गैंग के चंगुल से किसी तरह छूटकर पीड़ित पुलिस तक पहुंच पाया।

Honeytrap: हरियाणा के गुरुग्राम में काम करने वाले करनाल के एक AC मैकेनिक को ‘हनीट्रैप’ में फंसाने और उसको किडनैप करने के आरोप में शनिवार को एक महिला को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि महिला एक गिरोह में शामिल है, जिसके 4 अन्य सदस्यों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। आरोपी नीलम उर्फ तन्नू शर्मा, जयपुर के झालाना कॉलोनी की निवासी, को उपनिरीक्षक जसवंत सिंह के नेतृत्व में जयपुर से गिरफ्तार किया गया।

‘पांचों आरोपियों को हिरासत में भेजा गया’

पुलिस ने बताया कि महिला के पास से चोरी का एक मोबाइल फोन, सोने की चेन, पर्स, एटीएम कार्ड, आईपॉड, सिम कार्ड और अपराध में इस्तेमाल किया गया बोलेरो एसयूवी बरामद हुई है। पुलिस ने सभी पांचों आरोपियों को शनिवार को शहर की एक अदालत में पेश किया और अदालत ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया। पुलिस ने इससे पहले जयपुर निवासी दिनेश चौधरी उर्फ शुभम और महेंद्रगढ़ जिले के अटेली निवासी नितिन को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने बताया कि दो और आरोपी आशीष उर्फ आशु और अक्षय भट्ट को शुक्रवार को जयपुर से गिरफ्तार किया गया था।

‘जेल के अंदर ही बना लिया था पूरा प्लान’
पुलिस को पूछताछ में पता चला कि सोशल मीडिया के जरिए लोगों को ‘हनीट्रैप’ में फंसाने का पूरा प्लान दिनेश चौधरी ने बनाया था। चौधरी हाल ही में जयपुर जेल से जमानत पर छूट कर आया था, जहां वह अटेंप्ट टू मर्डर के एक केस में बंद था। चौधरी ने पुलिस के सामने कबूल किया कि उसने अपने बैरक में बंद एक अन्य कैदी से आइडिया लेकर जेल के अंदर ही इस तरह के वारदात को अंजाम देने का पूरा प्लान बना लिया था। ‘हनीट्रैप’ केस के इन्वेस्टिंग ऑफिसर सब इंस्पेक्टर सिंह ने कहा कि चौधरी हत्या, हत्या के प्रयास, डकैती और अपहरण के मामलों में संलिप्त रहा है।

‘सोशल मीडिया के जरिए हुआ था संपर्क’
हनीट्रैप’ और किडनैपिंग का पीड़ित एयर कंडीशन मैकेनिक से नीलम ने 5 जून को सेक्टर-29 के एक होटल में आने के लिए कहा था। दोनों के बीच सोशल मीडिया के जरिये संपर्क हुआ था। जब मैकेनिक वहां गया, तो उसे गैंग के बाकी के लोगों ने कथित तौर पर महिला के साथ यौन संबंध बनाने के लिए कहा और उसे ब्लैकमेल करने के लिए इस कृत्य को फिल्माया भी गया। 3 दिन तक बंधक बना कर रखे जाने के बाद मैकेनिक किसी तरह भागने में सफल रहा और उसने पुलिस को गैंग के बारे में जानकारी दी।

Leave a Comment