लो ब्लड प्रेशर खतरनाक क्यों हैं ? लो ब्लड प्रेशर से बचाव के लिए क्या-क्या सावधानियां बरतें ?


लोब्लड प्रेशर क्या है? लो ब्लड प्रेशरहोने के कारण? लक्षण? लो ब्लड प्रेशर होने पर क्या खाएं? लो ब्लड प्रेशर खतरनाक क्यों हैं? लो ब्लड प्रेशरसे बचाव के लिए क्याक्या सावधानियां बरतें

बहुतसारे लोगों को लो ब्लडप्रेशर होने की समस्या होतीहै, पर वे समझनहीं पाते हैं कि आखिर उनकाब्लड प्रेशर लो क्यों होजाता है? ब्लड प्रेशर का कभीकभीलो होना कोई बड़ी घबराने वालीबात नहीं है किंतु यदिआपका ब्लड प्रेशर अक्सर लो हो जाताहै या यूं कहेंकि सप्ताह में तीनचार बार लो हो जाताहै तो यह आपकेलिए अच्छी खबर नहीं है। नार्मल ब्लड प्रेशर 120/80 माना जाता है। बहुत से केस मेंलोगों का बी.पी110/70, 100/70, 90/60 भीदेखने को मिलता है, किंतु उनकी लाइफ नॉर्मल चलती रहती है या यूंकहें कि उनको उनकेशरीर में लो बी.पीसे संबंधित तो कोईलक्षण और ना हीकोई समस्या रहती है इसलिए 90/60 अगरकिसी का बी.पीरहता है तो उसेलो बीपी में काउंट नहीं करते हैं किंतु 90/60 से नीचे यदिकिसी व्यक्ति का बी.पीहो जाता है तो उसेलो बी.पी मेंकाउंट किया जाता है एवं उसव्यक्ति को डॉक्टर केपास यथासंभव अवश्य जाना चाहिए। 

इसके अलावा यदि आपका बी.पी 100/70 है, यानी कि ऊपर का100 और नीचे का 70 है और साथमें आपको इसके लक्षण भी महसूस होरहे हैं तो ऐसी स्थितिमें आप डॉक्टर सेसलाह अवश्य लें क्योंकि अगर आप लो बी.पी के लक्षणमहसूस कर रहे हैैंया लो बी.पीसे संबंधित कोई बीमारी या समस्या काआगाज़ महसूस कर रहे हैंतो यह निश्चित हैकि आपका ब्लड प्रेशर लो है।

ब्लड प्रेशर लो होने केक्याक्या कारण हो सकते हैं?

 (1) शरीरमें खून की कमी होनेसे बी.पी लोहो सकता है।

 (2)  हॉर्ट की मसल्स वीकहोने से बी.पीलो हो सकता है।

 (3)  रक्त वाहिनियां चोडी़ होने से खून कादबाव कम हो जाताहै, इसलिए यह भी बी.पी लो होनेका कारण हो सकता है।

 (4) शरीरमें पानी की कमी केकारण भी रक्तचाप निम्नहो जाता है। कभीकभी देखा जाता है कि दस्तलगने से बॉडी मेंपानी की मात्रा काफीकम हो जाती है।इस कारण से भी ब्लडप्रेशर लो हो सकताहै।

 (5) थायराइड, डायबिटीज़, लो शुगर आदिइन बीमारियों की वजह सेभी बी.पी लोहो जाता है।

 (6)  पेन किलर दवाइयां ज़्यादा लेने से बी.पीलो हो सकता है।

 (7) लोबी.पी के लिएड्रग्स और अल्कोहल भीज़िम्मेदार हैं। हालांकि ऐसा कुछ लोगों में ही देखा गयाहै, सभी लोगों में ऐसा नहीं देखा गया है।

 (8)  हीटस्ट्रोक लगने से, यानि ज़्यादा गर्म स्थान पर रहने सेया अधिक तापमान में रहने से लो बी.पी की समस्याहो सकती है, क्योंकि हीटस्ट्रोक लगने से पसीना बहुतअधिक निकलता है, जिस कारण से शरीर मेंवॉटर कंटेंट कम हो जाताहै जो कि लोबी.पी का कारणहोता है।

 हमें लो बी.पीकी समस्या हो, इसकेलिए हमें क्याक्या सावधानियां बरतनी चाहिए?

 (1) पोष्टिकएवं सुपाच्य भोजन का सेवन करें।

 (2)  तिल के तेल कोगुनगुना करके उससे पूरे शरीर में मालिश करें।

 (3) प्रतिदिननियमित रूप से व्यायाम अवश्यकरें।

 (4) नमकका सेवन उचित मात्रा में करें, कईं लोग बिल्कुल भी नमक नहींखाते हैं, जिस कारण से उनके शरीरमें सोडियम कम हो जाताहै,और कुछ लोगज़रूरत से ज़्यादा नमकखाते हैं, जो कि सोडियमबढ़ने का कारण होताहै। वह भी उचितनहीं है, इसलिए उचित मात्रा में  नमकका सेवन करें।

 (5)  ज़्यादा से ज़्यादा कोशिशकरें कि आप लिक्विडवाली चीजों का सेवन करें।आप सूप, जूस, हर्बल टी आदि अवश्यलें। प्रतिदिन पानी पर्याप्त मात्रा में अवश्य लें।

 ऐसे कौनकौन से लक्षण हैं? जिनसे हम यह जानसकें कि हम लोब्लड प्रेशर के शिकार हैं।

 (1) बहुतज़्यादा थकान महसूस होना।

 (2) बहुतअधिक कमज़ोरी महसूस होना।

 (3) फटीगहोना।

 (4) चक्करआना (उठनेबैठने में चक्कर आना या झुकते समयचक्कर आना या कभी कभारऐसा महसूस होता है जैसे खड़ेखड़े डिसबैलेंस होकर गिर जाएंगे)

 (5) ज़्यादालो बी.पी होनेसे कभीकभी बेहोशी भी जातीहै।

 (6) सांसलेने में तकलीफ महसूस होना।

 (7) शरीरमें ब्लड सरकुलेशन का कम होनाजिस कारण से बहुत ज़्यादाजी मिचलने लगता है तथा शरीरमें बहुत ही ज़्यादा कमज़ोरीमहसूस होने लगती है।

आइए यह भी जानलेते हैं कि लो ब्लडप्रेशर हमारे लिए खतरनाक क्यों है?

 अगरआपका भी बी.पीलो है, और आप इसकाइलाज़ नहीं करवा रहे हैं, तो बहुत जल्दआप तमाम खतरनाक बीमारियों के शिकार होसकते हैं। क्योंकि अगर आपका ब्लड प्रेशर लो होगा तोशरीर में ब्लड सरकुलेशन भी लो एवंस्लो होगा जिस कारण से ब्लड शरीरमें जहांजहां पहुंचना चाहिए, जैसे हमारे प्रत्येक छोटेछोटे सेल्स, सभी ऑर्गन इन सभी कोपर्याप्त मात्रा में ब्लड सप्लाई की ज़रूरत होतीहै, क्योंकि ब्लड सप्लाई की वजह सेही हर सेल औरहर ऑर्गन तक ऑक्सीजन कीसप्लाई होती है, तथा न्यूट्रिएंट्स पहुंचते हैं। तो यदि ब्लडप्रेशर कम होगा तोखून सभी ऑर्गन तक पर्याप्त मात्रामें नहीं पहुंच पाएगा। यदि आपका ब्लड प्रेशर लो है तोकाफी सारी चीज़ें आपको देखने को मिलती है।जैसेत्वचा में पीलापन हो सकता है, चीज़ें धुंधली दिखाई देने लग सकती है, डिप्रेशन की समस्या होसकती है या एकाग्रतामें कमी आने लगती है, मेमोरी लॉस और थकान जैसीसमस्या हो सकती है।

लोब्लड प्रेशर की वजह सेयह सभी अन्य समस्याएंदेखने को मिल सकतीहैं क्योंकि शरीर में प्रत्येक सेल को ऑक्सीजन चाहिएप्रत्येक सेल को न्यूट्रिशन चाहिएअगर ये उनको प्रॉपरनहीं मिलेगा या कम मात्रामें मिलेगा, तो धीरेधीरेयह ऑर्गन बीमार होने लगेंगे, इनमें कुछ ना कुछ विकृतिआने लगेगी। इसलिए लो ब्लड प्रेशरअगर आपको है तो ऐसाबिल्कुल भी मत समझिएकि केवल हाई ब्लड प्रेशर वालों को ही चिंताकरनी चाहिए।  बल्किलो ब्लड प्रेशर वालों को भी ध्यानरखना पड़ेगा। क्योंकि हमारे शरीर के प्रत्येक सेलतक ऑक्सीजन न्यूट्रिशंस खूनके प्रॉपर प्रेशर के माध्यम सेही पहुंचते हैं।

आइए जानते हैं कि लो ब्लडप्रेशर होने पर क्या खाएंयालो ब्लड प्रेशर कभी हो उसकेलिए भी अपने आहारमें क्या शामिल करें?

(1) किशमिश–  25-30 ग्रामकिशमिश रोज़ चबाकर खाएं, अगर भिगोकर रख दें तोज़्यादा बेहतर है ताकि सॉफ्टहो जाए और चबाने मेंआसानी हो सके।

(2) खजूर– 3-4 खजूर को पीस लेंऔर गुनगुने दूध में मिलाकर इसका सेवन करें।

(3) गाजर–  गाजरका जूस पिएं या कद्दूकस करकेदूध में उबालकर इसका सेवन करें।

(4)  गेहूं–  50 ग्रामगेहूं रात में भिगोकर सुबह उसे पीसकर एक चम्मच घीडालकर भून लीजिए और इसे दूधमें मिलाकर सेवन करें, साथ में बदाम किशमिश भीडाल सकते हैं, इससे आपका दलिया के प्रकार काघोल तैयार हो जाएगा आपइसका भी सेवन करसकते हैं।

(5) नींबूनींबू पानी का सेवन लोब्लड प्रेशर में काफी कारगर साबित होता है।

(6)  कभी कभार इंस्टेंट आराम के लिए कॉफीब्लड प्रेशर बढ़ाने में मदद करती है।

(7) रोज़ानाखाने में अनार, अमरूद, सेब, केला, चीकू या अंगूर कोईभी एक चीज़ खानेकी आदत बना लें तथा बदलबदल कर इनका सेवनकरें यह आपके लिएफायदेमंद है।

(8) अनारहमारे शरीर में खून की मात्रा कोबढ़ाने में मदद करता है। अनार लिवर के लिए भीकाफी फायदेमंद होता है।  प्रतिदिनअनार का सेवन करनेसे हमारा लिवर  फिटरहेगा, जिसकी वजह से ब्लड प्रेशरनार्मल रहेगा।

(9) समयसमय पर कोलेस्ट्रॉल काचेकअप कराते रहें अगर यह नॉर्मल हैतो आप घी, मक्खनखुराक में शामिल कर लें।

(10)  सब्जी़ में पालक, मेथी  औरजितनी हरी सब्जियां खाएंगे उतना ही आपका ब्लडसरकुलेशन अच्छा रहेगा। 

(11) हर2 से 3 घंटे में कुछ ज़रूर खाएं, आप स्प्राउट ( भीगेहुए चने एवं दालें) का सेवन करसकते हैं।

(12) दिन भर में 10-12 गिलासपानी अवश्य पिएं।

(13) प्रतिदिननियमित रूप से व्यायाम अवश्यकरते रहें ऐसा करने से आपको कभीभी लगेगा ही नहीं किआपका ब्लड प्रेशर लो है।

यहतो हमने जाना, लो ब्लड प्रेशरहोने के कारण, लक्ष्मण, दुष्परिणाम, सावधानियां, क्या खाएं ? इत्यादि किंतु यदि आपको लगता है कि आपकालो ब्लड प्रेशर है तो आपकिसी अच्छे आयुर्वेदिक विशेषज्ञ या डॉक्टर सेअवश्य संपर्क करें एवं सलाह लें।

योगमें भी लो ब्लडप्रेशर के निवारण केलिए बहुत से सूक्ष्म व्यायाम, क्रियाएं एवं आसन उपलब्ध हैं, आप किसी योगविशेषज्ञ से सलाह लेकरबिना किसी दवा के स्वयं कोस्वस्थ बना सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *