भारतीय मूल के लोगों पर भरोसा जता रहा अमेरिका, राधा आयंगर को पेंटागन में बड़ी जिम्मेदारी मिली, जानें प्रोफाइल

भारतीय मूल के लोगों पर भरोसा जता रहा अमेरिका, राधा आयंगर को पेंटागन में बड़ी जिम्मेदारी मिली, जानें प्रोफाइल
Spread the love
Image Source : TWITTER/RADHA IYENGAR PLUMB
Radha Iyengar Plumb

Highlights

  • अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने राधा पर भरोसा जताया
  • राधा को डिफेंस फॉर ऐक्विजिशन एंड सस्टेनमेंट के डिप्टी अंडर सेक्रेटरी पद की जिम्मेदारी
  • राधा अभी तक अमेरिकी रक्षा उपमंत्री की चीफ ऑफ स्टाफ के रूप में दे रही थीं सेवाएं

Radha Iyengar Plumb: भारतीय मूल की अमेरिकी महिला राधा आयंगर प्लंब को पेंटागन में बड़ी जिम्मेदारी मिली है। ये हर भारतीय के लिए एक गर्व का पल है, जब अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने राधा पर भरोसा जताते हुए उन्हें अहम जिम्मेदारी सौंपी है। राधा को डिफेंस फॉर ऐक्विजिशन एंड सस्टेनमेंट के डिप्टी अंडर सेक्रेटरी के पद के लिए चयनित किया गया है। राधा अभी तक अमेरिकी रक्षा उपमंत्री की चीफ ऑफ स्टाफ के रूप में सर्विस दे रही थीं। 

गूगल, फेसबुक समेत कई बड़ी कंपनियों में कर चुकी हैं काम 

राधा गूगल और फेसबुक समेत कई बड़ी कंपनियों में सेवाएं दे चुकी हैं। वह पहले गूगल में ट्रस्ट और सेफ्टी के लिए रिसर्च एंड इनसाइट्स की डायरेक्टर थीं और एक बड़ी टीम का नेतृत्व करती थीं। इसके अलावा वह फेसबुक में ग्लोबल हेड ऑफ पॉलिसी एनालिसिस के रूप में सेवाएं दे चुकी हैं। यहां भी उन्होंने कई बड़ी जिम्मेदारियों को निभाया। 

अमेरिकी रक्षा और ऊर्जा मंत्रालय का भी रहीं हिस्सा 

राधा ने अमेरिकी रक्षा मंत्रालय, ऊर्जा मंत्रालय और वाइट हाउस राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद कई सीनियर पदों पर सर्विस दी हैं। उन्होंने मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में अर्थशास्त्र की पढ़ाई है। इसके अलावा उन्होंने प्रिंसटन विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में पीएचडी की है।

भारतीय मूल के लोगों पर भरोसा जता रहा बाइडेन प्रशासन 

बता दें कि बाइडेन प्रशासन भारतीय मूल के लोगों पर भरोसा जता रहा है। ये हर भारतीय के लिए गर्व की बात है कि उसके देश के लोगों के टैलेंट को अमेरिका अपनी मान्यता दे रहा है। बीते एक महीने में तीसरी बार ऐसा हुआ है, जब किसी भारतीय मूल के शख्स को बड़ी जिम्मेदारी मिली हो। इससे पहले खबर सामने आई थी कि बाइडेन स्लोवाकिया में गौतम राणा को अमेरिकी राजदूत बनाने वाले हैं। इससे पहले रहोनेन माली में रचना सचदेवा को अपना दूत नामित किया जा चुका है।



Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *