पीरियड्स के दौरान रखें हाइजीन का ख्याल, ये बीमारियां रहेंगी दूर

Spread the love

World Menstrual Hygiene Day 2022: भारत के गांव-देहात में आज भी लोग पीरियड्स को लेकर खुलकर बात नहीं करते हैं. हर लड़की एक उम्र के बाद इस स्थिति से गुजरती है. हर महीने पीरियड्स होते हैं, लेकिन इन्हें ऐसे छुपाने की कोशिश की जाती है जैसे ये कोई गलत काम हो. आज भी लड़कियां पैड खरीदने में शर्माती हैं. इस बारे में खुलकर बात करने से कतराती हैं. आज भले ही स्कूलों में पीरियड्स या हार्मोंस में होने वाले बदलाव को लेकर जागरुकता फैलाने की बात कही जाती हो, लेकिन सच्चाई ये है कि गांव की लड़कियां अपनी मां या बहन से भी इस बारे में बोलने से डरती हैं. यही वजह है कि महिलाएं पीरियड्स और उससे जुड़े संक्रमण का शिकार होती हैं. कई बार समय पर इलाज नहीं करवाने से महिलाओं में बांझपन का खतरा बढ़ जाता है. पीरियड्स के दौरान साफ-सफाई का ध्यान रखने को लेकर 28 मई को पूरे विश्व में एक जागरूकता अभियान चलाया जाता है. इस दिन विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस मनाया जाता है. आइये जानते हैं पीरियड्स के वक्त आपको क्या साफ-सफाई बरतनी चाहिए. 

पीरियड्स के वक्त रखें साफ-सफाई का ख्याल

1- समय पर सैनिटरी नैपकिन बदलें- पीरियड्स में हाइजीन का ख्याल रखने के लिए आपको हर 5-6 घंटे में अपना पैड बदल देना चाहिए. जब पीरियड्स होते हैं तो शरीर से कई तरह के बैक्टीरिया निकलते हैं जो कई बार जलन, खुजली, रैशेज या यूरिन इंफेक्शन का कारण बनते हैं. 

2- साबुन या अन्य प्रोडक्ट से क्लीनिंग न करें- कई लोग साबुन या दूसरे वजाइनल क्लीनिंग प्रोडक्ट का उपयोग करते हैं. इससे कई बार अच्छे बैक्टीरिया मर जाते हैं. पीरिड्स के दौरान खासतौर से आपको साबुन या किसी कैमिकल प्रोडक्ट का इस्तेमाल न करें. आप सिर्फ गुनगुने पानी से क्लीनिंग करें. 

3- डेली नहाएं- जब पीरियड्स हों तो आपको रोजाना नहाना चाहिए. इससे आपके प्राइवेट पार्ट की क्लीनिंग भी अच्छी तरह से हो जाती है. नहाने से पेट में होने वाली ऐंठन और पीठ दर्द में दर्द में आराम मिलता है.  दर्द से राहत पाने के लिए गुनगुने पानी से शॉवर लें. 

4- कॉटन बेस वाले पेड का इस्तेमाल करें- आजकल बहुत सारी महिलाएं प्राइवेट पार्ट पर खुजली या रैशेज से परेशान रहती हैं. इसकी बड़ी वजह प्लास्टिक बेस वाले पैड हैं. इनसे एयर पास नहीं होती और लंबे वक्त तक इन्हें लगाए रखने से इंफेक्शन हो जाता है. इससे बचने के लिए आपको कॉटन बेस वाले पैड का इस्तेमाल करना चाहिए. 

5- मेन्स्ट्रुअल कप को ठीक से क्लीन करें- अगर आप मेन्स्ट्रुअल कप का इस्तेमाल करती हैं, तो आपको इसे अच्छी तरह से क्लीन करना चाहिए. खासबात ये है कि आपको हर 4 घंटे में इस कप को खाली करना जरूरी है. दिन में एक बार इस कप को बॉइल करें. अगर आप साफ-सफाई का ख्याल नहीं रखेंगी तो इससे इंफेक्शन हो सकता है.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की एबीपी न्यूज़ पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

ये भी पढ़ें: Beauty Tips: आईब्रो बनवाते वक्त नहीं होगा बिल्कुल दर्द, इन बातों का रखें ध्यान

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *