‘पीएम मोदी ने देश के युवाओं को धोखा दिया, वापस लें अग्निपथ योजना’, जानें ओवैसी ने और क्या कहा

'पीएम मोदी ने देश के युवाओं को धोखा दिया, वापस लें अग्निपथ योजना', जानें ओवैसी ने और क्या कहा
Spread the love
Image Source : PTI/FILE
Asaduddin Owaisi

Highlights

  • अग्निपथ योजना के खिलाफ असदुद्दीन ओवैसी का बयान
  • गलत पॉलिसी के चलते युवा गुस्से में है और हम उनके साथ: ओवैसी
  • ट्रेन जलाने के मुद्दे पर ओवैसी ने कहा कि क्या ट्रेन तेरे बाप की है

Agneepath Scheme: अग्निपथ योजना को लेकर देश में इस समय दो पक्ष बन गए हैं। एक पक्ष इस योजना का सपोर्ट कर रहा है, वहीं दूसरा पक्ष इसकी आलोचना करके सरकार को इसे वापस लेने की मांग कर रहा है। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने अग्निपथ योजना के खिलाफ बयान दिया है और कहा है कि पीएम मोदी ने देश के युवाओं को धोखा दिया है और उनके भविष्य से मजाक किया है। ओवैसी ने कहा कि पीएम मोदी को अग्निपथ योजना को वापस लेना होगा। गलत पॉलिसी के चलते युवा गुस्से में है और हम उनके साथ हैं। ओवैसी ने ट्रेन जलाने के मुद्दे पर कहा कि क्या ट्रेन तेरे बाप की है। 

 नूपुर शर्मा के बयान पर भी बोले ओवैसी

ओवैसी ने कहा कि देश के पीएम को समझना चाहिए कि नूपुर शर्मा के बयान से हम तकलीफ में हैं। बीजेपी नूपुर शर्मा को क्यों बचा रही है। नूपुर शर्मा को गिरफ्तार किया जाना चाहिए, तभी इंसाफ होगा। उन्होंने कहा कि पैगंबर के खिलाफ कोई भी अनाप शनाप बोलेगा तो बर्दाश्त के खिलाफ है। जो दिल पर वार करेगा उसे नहीं छोड़ा जाएगा। ओवैसी ने ये भी कहा कि आठ साल में देश को बर्बाद कर दिया गया है। पीएम मोदी झूठ बोल रहे हैं। आप बताएं कि आठ साल में कितनी नौकरी दी गई हैं। 

ओवैसी ने रांची में सभा को किया संबोधित

ओवैसी ने रांची की सभा में कहा कि रांची में क्या हुआ ये आप जानते हैं। झारखंड सरकार और केंद्र सरकार ने दो लोगों  की जान ले ली। अगर झारखंड सरकार ईमानदारी से काम करती तो यह घटना नहीं होती। ओवैसी ने मांग करते हुए कहा कि इस मामले में सीएम को माफी मांगना चाहिए। रांची हिंसा मामले पर उन्होंने कहा कि चुनाव में मौत पर वोट देकर जवाब दीजिए। रांची में ओवैसी ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा और उसे बूढ़ा बताया। ओवैसी ने कांग्रेस के विधायक पर भी हमला बोला और कहा कि क्या झारखंड तुम्हारे बाप का है। कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि अगर हिम्मत है तो उन पुलिसकर्मियों को अरेस्ट कराओ, जिन्होंने दो लोगों को गोली मारी थी। 



Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *