गर्मियों में ऐसे बदलें अपना बियुटी रिजीम, पढ़ें स्किन के लिए क्या है ज़रूरी

Spread the love

Beauty Tips for Summers: चिलचिलाती गर्मी ने दस्ता दे दी है और अगर आप घर से बाहर निकलती हैं तो आपकी स्किन की बैंड बज जाती है.  भारत का मौसम ऐसा है की हर मौसम के हिसाब से हमने स्किन रिजीम बदलना पड़ता है वरना स्किन ख़राब डर बना रहता है. इसी सबसे बचने के लिए आपको एक अच्छा स्किन रूटीन फॉलो करना चाहिए. चलिए हम बताते हैं आपको गर्मियों के स्किन केयर रूटीन की कि कैसे अपनी त्वचा का गर्मियों में ख्याल रखा जाए.

सनस्क्रीन से करें दोस्ती

सनस्क्रीन, गर्मियों का एक ऐसा उपकरण है, जिसे आप भूल कर भी नहीं भूल सकतीं. आपके चेहरे, हाथ, पैर या शरीर के किसी भी अन्य हिस्से के लिए सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों से सुरक्षा महत्वपूर्ण है. यूवी किरणों का बहुत ज्यादा एक्सपोजर त्वचा को न सिर्फ ‘टैन’ करता है, बल्कि उसे डल और बेजान भी बनाता है. सूर्य की किरणों से होने वाला सनटैन इतना खतरनाक होता है, कि यह आसानी से और जल्दी नहीं निकलता. इसलिए इनसे खुद को बचाकर रखें. सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों का अत्यधिक एक्सपोजर, कई बार त्वचा के कैंसर और प्रीमेच्योर एजिंग का भी कारण बन सकता है.

आयल कंट्रोल फेस वाश चुनें

स्किन अच्छी रखनी हो तो, फेस वाश बदलते रहना चाहिए। यह मैं नहीं, डॉक्टर्स कहते हैं. चेहरे को साफ रखना, वैसे भी स्किन रूटीन का पहला स्टेप होता है. यदि आपको अपनी स्किन के बेस्ट रिजल्ट चाहिए, तो पहले उसे सही से क्लेंज Cleanse करना शुरू करें. क्योंकि गर्मियों का मौसम गर्म और उमस भरा होता है. हवा में नमी होती है,  इसलिए इस मौसम में चेहरे पर अधिक तेल दिखता है. लिहाजा, आपको अपनी स्किन के हिसाब से अपने क्लेंजर का चुनाव करना होगा या बदलना होगा. क्यूंकि गर्मियों में स्किन में ज़ादा आयल निकलते हैं तो फेस वाश ऐसा चुनें जो आयल कंट्रोल करने में सक्षम हो.

एंटी ऑक्सीडेंट प्रोडक्ट

ऐसे सीरम, मॉस्चराइज़र और सनस्क्रीन सेलेक्ट करें, जिनमें एंटीऑक्सिडेंट भर-भर के हों. उदाहरण के लिए- विटामिन सी आपकी स्किन को नेचुरल क्षति यानी प्रदूषण या पर्यावरण से होने वाली क्षति से बचाता है, झुर्रियों को आने से रोकता है और स्किन में कोलैजन के उत्पादन को बढ़ाता है.

डाइट में बढ़ा दें फ्रूट और पानी की मात्रा

सिर्फ एंटीऑक्सीडेंट या सनस्क्रीन लगाने से सब कुछ नहीं होने वाला. जी हां! आपको अपने खाने-पीने के रूटीन में भी सुधार करना होगा. दिन भर तला-भुना खाने से त्वचा चमकदार नहीं दिखने वाली? क्योंकि वह ‘तेल’ फैट बढ़ाता है, चमक नहीं? इसलिए, आज से ही अपनी डाइट में फल और सब्जियों का इंटेक बढ़ा लें. क्योंकि, गर्मियों के मौसम में खान-पान का स्वस्थ होना, ब्यूटी प्रोडक्टस के ब्रांडेड होने से भी कहीं ज्यादा जरूरी है. अंदर से दुरुस्त तो बाहर से तंदुरुस्त.

हेवी मेकउप को कहें नो-नो

चिपचिपी गर्मियों के मौसम में वैसे तो मेकअप करने का ज्यादा दिल करता ही नहीं है. लेकिन फिर भी यदि करना ही पड़ जाए, तो थोड़ा कम ही मेकअप लगाएं. क्योंकि पसीने और उमस भरे इस मौसम में त्वचा को सांस लेने की जरूरत होती है. और अगर आप मेकअप की परत दर परत लगा लेंगी, तो त्वचा के रोमछिद्र बंद हो जाएंगे. और आगे की सारी कहानी तो आपको भी पता ही होगी, एक्ने, पिंपल. इसलिए ध्यान रखें, बहुत जरूरी हो तो, फाउंडेशन की बजाए, एसपीएफ युक्त कोई अच्छा लेकिन हल्का मॉस्चराइज़र लगाएं और हल्का फेस पाउडर. बस, इससे ज्यादा कुछ नहीं.

आप इन गर्मियों ये रिजीम ज़रूर फॉलो करें फिर देखें ये चिलचिलाती धुप भी आपके चेहरे का कुछ नहीं बिगाड़ पाएगी.

यह भी पढ़ें-

Kitchen Hacks: वीकेंड पर खाना है कुछ चटपटा तो घर पर बनाएं दही वड़ा चाट, जानें इसकी आसान रेसिपी

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *