आप पूर्वाग्रह और अन्य किस्म की राय और सामाजिक अपवर्जन या बहिष्कार क्या है?

Spread the love

आप पूर्वाग्रह और अन्य किस्म की राय अथवा विश्वास के बीच भेद कैसे करेंगे?

पूर्वाग्रह एक समूह के सदस्यों द्वारा दूसरे समूह के बारे में पूर्वकल्पित विचार अथवा व्यवहार से होता है। अर्थात् वह धारणा जो बिना विषय को जाने और बिना उसके तथ्यों को परखे प्रारम्भ में ही बना ली जाती है।

यह भी पढ़े – सामाजिक असमानता का अर्थ और इसकी विशेषताएँ क्या क्या है ?

एक पूर्वग्रहित व्यक्ति के पूर्वकल्पित विचार सबूत-साक्ष्यों के विपरीत सुनी-सुनाई बातों पर आधारित होते हैं।

यह नई जानकारी प्राप्त होने के बावजूद बदलने से इंकार करते हैं। पूर्वाग्रह सकारात्मक तथा नकारात्मक दोनों हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, एक व्यक्ति अपनी जाति और समूह के सदस्यों के पक्ष में पूर्वाग्रहित हो सकता है और उन्हें बिना किसी सबूत के दूसरी जाति या समूह से श्रेष्ठ मान सकता है।

दूसरी तरफ इस सम्बन्ध में किसी भी व्यक्ति के लिए जो राय या अवधारणा बनती है वह जानकारी या तथ्यों पर आधारित नहीं होती बल्कि सोच के आधार पर होती है।

सामाजिक अपवर्जन या बहिष्कार क्या है?

सामाजिक अपवर्जन या बहिष्कार वह तौर-तरीके हैं, जिनके जरिए किर्स व्यक्ति या समूह को समाज में पूरी तरह घुलने-मिलने से रोका जाता है व अलग या पृथक् रख जाता है। जो व्यक्ति या समूह को उन अवसरों से वंचित करते हैं जो अधिकांश जनसंख्या व लिए खुले होते हैं।

भरपूर तथा क्रियाशील जीवन जीने के लिए व्यक्ति को जीवन की मूलभूत आवश्यकताओं (जैसे रोटी, कपड़ा तथा मकान) के अलावा अन्य आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं (जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, यातायात के साधन, बीमा, सामाजिक सुरक्षा, बैंक) की भ जरूरत होती है।

सामाजिक भेदभाव आकस्मिक या अनायास रूप से नहीं बल्कि व्यवस्थित तरीके से होता है, अनैच्छिक होता है।

1 thought on “आप पूर्वाग्रह और अन्य किस्म की राय और सामाजिक अपवर्जन या बहिष्कार क्या है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *