आजमगढ़ को क्या आर्यमगढ़ बना देंगे CM योगी? चुनावी रैली में सपा-बसपा पर जमकर बोला हमला

आजमगढ़ को क्या आर्यमगढ़ बना देंगे CM योगी? चुनावी रैली में सपा-बसपा पर जमकर बोला हमला
Spread the love
Image Source : PTI
Yogi Adityanath

Highlights

  • यूपी के विकास में सपा और बसपा, राहु और केतु हैं: सीएम योगी
  • ‘आजमगढ़ को सपा की सरकार ने आतंक का गढ़ बना दिया था’
  • जरुरत पड़ने पर बुलडोजर भी चलता रहेगा: योगी आदित्यनाथ

CM Yogi in Azamgarh: उत्तर प्रदेश में लोकसभा की दो सीटों रामपुर और आजमगढ़ पर उपचुनाव को लेकर लेकर राजनीतिक हलचल तेज है। सत्ता पक्ष और विपक्ष ने जीत के लिए पूरा जोर लगा दिया है। इस बीच, प्रदेश के मुख्यमंत्र योगी आदित्यनाथ आज रविवार आजमगढ़ पहुंचे। यहां सीएम योगी ने दो जगहों चक्रपानपुर और बिलरियागंज में सभा कर बीजेपी उम्मीदवार दिनेश लाल यादव निरहुआ के लिए वोट मांगे। इस दौरान सीएम योगी ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव, बसपा प्रमुख मायावती के साथ ही आजम खान पर भी जमकर निशाना साधा।

सीएम योगी ने सपा और बसपा पर आरोप लगाया, “उत्तर प्रदेश के विकास में सपा और बसपा, राहु और केतु हैं, ये विकास के क्रूर ग्रह हैं, इनसे आप जितनी दूरी बनाएंगे, विकास उतना ही नजदीक आएगा।” उन्होंने कहा “आजमगढ़ को समाजवादी पार्टी की सरकार ने आतंक का गढ़ बना दिया था, बहुजन समाज पार्टी भी उससे कभी अपने आपको मुक्त नहीं कर पाई, लेकिन आजमगढ़ को विकास के साथ जोड़ने का कार्य बीजेपी की डबल इंजन की सरकार ने किया है।” 

‘आजमगढ़ में जिन्हें आपने चुना था, वह विकास तो नहीं करा पाएं’

बीजेपी सरकार की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए योगी ने कहा, “आजमगढ़ में जिन्हें आपने चुना था, वह विकास तो नहीं करा पाएं, बल्कि उन्होंने आपके सामने पहचान का संकट जरूर खड़ा कर दिया और फिर आजमगढ़ को मझधार में छोड़कर गायब हो गए।” उन्होंने कहा, “हम मानते थे कि अखिलेश जी विधायक बन गए हैं, तब भी आजमगढ़ को नहीं छोड़ेंगे, क्योंकि आजमगढ़ ने संकट के समय में उनका साथ दिया है। यद्यपि यहां के कार्यकर्ता संशय में थे कि वह धोखा जरूर देंगे।” उन्होंने आरोप लगाया कि कोरोना काल में अखिलेश यादव सांसद रहते हुए भी यहां हाल चाल लेने नहीं आए, लेकिन कोरोना काल में मैं यहां तीन बार आया था। 

योगी ने सपा पर धोखा देने का आरोप लगाते हुए दावा किया कि सपा ने पहले एक दलित नौजवान को टिकट देने का वादा किया और फिर सैफई परिवार में टिकट चला गया। उन्होंने कहा कि बहन जी (मायावती) ने जिन्‍हें अपना प्रत्याशी (शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली) बनाया है, सपा उन्हें भी धोखा दे चुकी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह (शाह आलम) सपा में गए थे, लेकिन सपा ने टिकट से वंचित कर बेरोजगार कर दिया था, क्योंकि सपा की प्रवृत्ति ही धोखा देने की है।

‘आजमगढ़ को विकास के माध्‍यम से आर्यमगढ़ बनाने की प्रक्रिया से जोड़ने आया हूं’

 
मुख्यमंत्री ने कहा, “प्रदेश की जनता ने चार बार बसपा और तीन बार सपा को सत्ता में आने का अवसर दिया, लेकिन सपा और बसपा ने उसे धोखा दिया है। इन लोगों का विकास का कोई एजेंडा नहीं है।” उन्होंने अनुरोध किया कि आजमगढ़ को आतंकवाद का गढ़ मत बनने दीजिए, आजमगढ़ को विकास के माध्‍यम से आर्यमगढ़ बनाने की प्रक्रिया से जोड़ने आया हूं, आप अवसर को चूकिएगा मत, ईश्वर ने आपको एक अवसर दिया है।” 

नौकरियों को लेकर मुख्यमंत्री ने सपा परिवार की ओर इशारा करते हुए आरोप लगाया, “2017 से पहले जब भी नौकरियों की घोषणा की जाती थी तो पूरा खानदान ‘वसूली’ के लिए निकल पड़ता था।” योगी ने दावा किया कि हमने पांच लाख सरकारी नौकरी दी है, जबकि सपा और बसपा ने युवाओं को धोखा दिया था। 

उन्होंने कहा, “बहन जी (मायावती) के हाथी का पेट इतना बड़ा है कि यह कभी नहीं भरता है। यह गरीबों का राशन और युवाओं के लिए रोजगार भी खाता था।” उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार ने सभी बाधाओं को दूर किया और जब लगा कि ज्यादा जकड़न है तो उस जकड़न को दूर करने के लिए बुलडोजर का भी सहारा लिया है। 

 जो गरीबों की संपत्ति पर कब्जा करेगा उस पर रियायत नहीं होगी- योगी

योगी ने आजम खान पर तंज कसते हुए कहा, “एक नेता कल आए थे जो रोना रो रहे थे, लेकिन याद रखिए जो गरीबों की संपत्ति पर कब्जा करेगा उस पर रियायत नहीं होगी। जो नौजवानों के भविष्य से खेलेगा, जो बहू बेटियों की इज्जत से खेलेगा उसके साथ रियायत नहीं बरती जाएगी, चाहे वह कोई भी हो। जरूरत पड़ने पर बुलडोजर भी चलता रहेगा।” 

गौरतलब है कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मैनपुरी के करहल से जीतने के बाद आजमगढ़ संसदीय सीट से इस्तीफा दे दिया था। अखिलेश यादव के इस्तीफे से रिक्त हुई आजमगढ़ संसदीय सीट पर 23 जून को मतदान होगा। यहां सपा प्रमुख के चचेरे भाई और पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव को समाजवादी पार्टी ने उम्मीदवार बनाया है। इसके पहले 2014 में आजमगढ़ संसदीय सीट से सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव चुनाव जीते थे। 



Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *